कुशेश्वरस्थान उपचुनाव: महागठबंधन प्रत्याशी गणेश भारती ने किया नामांकन, महागठबंधन नेताओं ने दिखाई एकजुटता 

दरभंगा: गुरुवार को कुशेश्वरस्थान विधानसभा के उपचुनाव में महागठबंधन के प्रत्याशी ‘गणेश भारती’ के नामांकन कार्यक्रम को लेकर सुपौल बाजार खोड़ा गाछी मैदान में प्रदेश व जिला राष्ट्रीय जनता दल के साथ महागठबंधन के संपूर्ण मिथिलांचल के नेताओं ने भाग लिया। वहीं राष्ट्रीय जनता दल के गौड़ाबौराम विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी अफ़ज़ल अली खान ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की और मंच का संचालन प्रखंड अध्यक्ष कैलाश शाह ने किया।
प्रदेश से आए वृशिण पटेल पूर्व मंत्री बिहार सरकार ने अपनी बातों को बहुत ही सरल तरीके से कुशेश्वरस्थान के मतदाता मालिकों के बीच में रखा और कहा कि इस उपचुनाव पर पूरे बिहार ही नहीं पूरे भारतवर्ष की निगाह है और पूर्व के विधानसभा में हमें जनता ने नहीं बल्कि नीतीश कुमार ने हथकंडो से हमें चुनाव कागजों पर हराया है। पूरा बिहार और सत्ता में बैठे खोखले मुख्यमंत्री ने भी कहीं ना कहीं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को बिहार का भविष्य माना है। प्रदेश से आए तमाम पूर्व मंत्री पूर्व विधायक ने बारी-बारी से अपनी बातों को रखा और बिहार में हो रहे दोनों सीट पर महागठबंधन के उम्मीदवारों को अधिक से अधिक वोट देकर जिताने के लिए मतदाता मालिकों से अपील की।
वही युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहेब ने कहा कि भाजपा के विषय में दांतो को तोड़ने का जज्बा केवल लालू यादव और बिहार के भविष्य तेजस्वी यादव को ही है। वही गौड़ाबोराम राम के पूर्व प्रत्याशी अमजद अली खान ने एनडीए को दोहरे चरित्र का बताते हुए जनता के सामने रखा और बताया कि आज भी सुदूर गांव की जनता हर वर्ष बाढ का दंश झेलती है और सरकार केवल 6 हज़ार का झुनझुना हाथ में थमाने का हर वर्ष इंतजार मात्र करती है। किसानों के साथ ये छलावा कब तक? पूरे देश में किसानों को रौंदा जा रहा है और इसका नतीजा आने वाले समय में सत्ता में बैठे सत्ता के नशे में चूर लोगों को भुगतना होगा।
वही, युवा राष्ट्रीय जनता दल के महानगर अध्यक्ष राकेश नायक ने गौड़ाबौराम और कुशेश्वरस्थान की जनता को आधारपुर की घटना याद दिलाते हुए बताया की इस छेत्र में एक महिला प्रतिनिधि के होते हुए भी इस क्षेत्र में एक गरीब ब्राह्मण महिला के साथ कलयुग द्रौपदी बनाकर उसे प्रताड़ित किया गया और एक महादलित से उसकी मांग में सिंदूर डलवा कर समाज में अगड़ी और पिछड़ी जाति की खाई को और गहरी करने का काम किया गया। उस केस में सत्ता पक्ष के किसी विधायक सांसद या मंत्रियों ने कोई संज्ञान नहीं लिया और आज भी उस केस में महिला को न्याय नहीं मिला है।
वही इस बैठक में बिहार प्रदेश से आए पूर्व मंत्री श्याम रजक, दरभंगा ग्रामीण के विधायक व मुख्य सचेतक ललित यादव, शिवचंद्र राम पूर्व मंत्री बिहार सरकार, लवली आनंद पूर्व सांसद, विधायक चंद्रभान, चौपाल रामवृक्ष सदा विधायक, युवा राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहेब, विधायक भारत भूषण, पूर्व विधायक फैयाज अहमद, समस्तीपुर विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन, हर्ष चौपाल विधायक, रामअवतार पासवान विधायक, प्रदेश महासचिव सह जिला अध्यक्ष अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ, गुलाम हुसैन चीना, सुभाष राय, राष्ट्रीय महासचिव बदरे आलम बदर, यासमीन खातून जिला अध्यक्ष महिला सेल, सुनीति रंजन दास, समाजवादी पार्टी प्रवीण यादव समेत अन्य सैकड़ों नेता कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।